Raipur jila chhattisgarh : रायपुर जिला छत्तीसगढ़ के बारे में जानिए सम्पूर्ण जानकारी

Raipur jila chhattisgarh | रायपुर जिला छत्तीसगढ़

रायपुर छत्तीसगढ़ का हृदय स्थल है | रायपुर जिला वर्तमान समय में छत्तीसगढ़ की राजधानी है | और रायपुर ही रुपुर जिले का मुख्यलय है | छत्तीसगढ़ जिले की राजधानी रायपुर छत्तीसगढ़ का सबसे बड़ा शहर है | यह छत्तीसगढ़ का औद्योगिक केंद्र भी है | रायपुर जिला कई हजार लोगो को श्रम प्रदान करती है | रायपुर जिला छत्तीसगढ़ का एक बहुत ही महत्वपूर्ण शहर है |

ऐपुर जिला छत्तीसगढ़ राज्य के मध्य में होने के कारण और अपने इतिहास के कारन ही रायपुर को छत्तीसगढ़ की राजधानी बनया गया है | रायपुर जिले में कई सारे पर्यटन स्थल भी है जिसका जिक्र हम आगे करेंगे | रायपुर जिला छत्तीसगढ़ राज्य का व्यपारिक दृष्टि से सर्वप्रमुख जिला है | इस जिले अनेको उद्योग धंधे लगे हुए है |

Raipur jila chhattisgarh
Raipur jila chhattisgarh

 

रायपुर जिले की प्रशासनिक जानकारी

छत्तीसगढ़ राज्य पहले मध्यप्रदेश के अन्दर आता था |  छत्तीसगढ़ राज्य का गठन 1 नवम्बर सन 2000 को हुआ था | इसी छत्तीसगढ़ राज्य की राजधानी रायपुर जिले का गठन सन 1861 में किया गया था | रायपुर जिला में वर्तमान में 8 तहसील मौजूद है जिनमे 1. अभनपुर 2. तिल्दा 3. आरंग 4. खरोरा 5. गोबरा 6. नवापारा 7. धरसिवा 8. मंदिर हसौद शामिल है |

रायपुर जिले में चार ब्लाक उपस्थित है जिनमे 1. धरसीवा 2. तिल्दा 3. अभनपुर 4. आरंग साथ ही छत्तीसगढ़ राज्य की राजधानी रायपुर में 2 नगरनिगम है जिनमे 1. रायपुर 2. बिरगांव शामिल है | रायपुर जिले में 3 नगर पालिका है – 1. तिल्दा – नेवरा 2. गोबरा नवापारा 3. आरंग | रायपुर जिले के सिमावार्ति जिलो में महासमुंद जिला , बलौदा बाजार , गरियाबंद , धमतरी , दुर्ग , बेमेतरा शामिल है | वर्तमान में रायपुर जिलर का कलेक्टर डॉ.गौरव कुमार सिंह जी है |

रायपुर जले में कुल कुल 7 विधान सभा सीटे है – 1. अभनपुर 2. आरंग 3. धरसीवा 4. रायपुर ग्रामीण सिटी 5. रायपुर सिटी वेस्ट 6. रायपुर सिटी नॉर्थ 7. रायपुर सिटी साउथ |

रायपुर जिला
रायपुर जिला

रायपुर जिले का इतिहास

रायपुर जिला पहले मौर्य साम्राज्य का हिस्सा था | 9 वी सदी के बाद से रायपुर जिले का अस्तित्व रह है | पहले रायपुर जिला हैहाया किंग की राजधानी थी | शहर की पुरानी साईट और किले के खंडहर शहर के दक्षिण भाग में देखे जा सकते है | ऐसा कहा जाता है की पहले छत्तीसगढ़ राज्य के रायपुर मर गोंड राजाओ का शासन था |  रायपुर जिला 1 नवम्बर सन 1956 को मध्यप्रदेश का हिस्सा बना उसके बाद जब छत्तीसगढ़ का विभाजन हुआ तब रायपुर 1 नवम्बर सन 2000 को छत्तीसगढ़ का हिस्सा बना गया | और तब से ही रायपुर नये राज्य की राजधानी बना गया |

रायपुर जिले का भूगोल

रायपुर जिले के प्रमुख नदी महानदी और खारुन नदी है | महानदी छत्तीसगढ़ राज्य की सबसे प्रमुख नदी है | इस नदी का उद्गम धमतरी के नगरी सिहावा तहसील में स्थित श्रिंग पर्वत से हुयी है | रायपुर जिले का औसतन अधिकतम तापमान 44.3 डिग्री सेल्सिअस है | और न्यूनतम तापमान 12.5 डिग्री सेल्सिअस है | रायपुर जिले की मिटटी कन्हार , डोरसा , मटासी कछार एवं भाठा प्रकार की है | ऐपुर जिले में औसतन वर्षा 1370 मिमी होती है |

रायपुर जिले की जनसंख्या

रायपुर छत्तीसगढ़ की राजधनी है यहाँ पर लोगो को कई सारे रोजगार के अवसर है इस कारन इस जिले जनसख्या बहुत ही अधिक होगी | रायपुर जिले की कुल जनसख्या 2011 के जनगणना के अनुसार 10,10,087 है यहाँ जा लिगानुपात 946 है | रायपुर जिले की साक्षरता दर 86.90 प्रतिशत है | रायपुर जिले के पुरुष साक्षरता दर 92.39प्रतिशत है | यहाँ महिला साक्षरता दर 81.10 प्रतिशत है

रायपुर जिले के प्रमुख शिक्षण संस्थान

विश्वविद्यलय – 1. पंडित रवीशंकर विश्वविद्यालय 2. कलिंगा यूनिवर्सिटी 3. इन्द्रा गाँधी कृषि विश्व विद्यालय 4. हिदायीदुल्ला लॉ युनिवर्सिटी आदि

कॉलेज – 1. शासकीय हीरालाल कॉलेज अभनपुर 2. शासकीय जे योगा नन्दम कॉलेज रायपुर 3. शासकीय नागार्जुन ऑटोनौमस कॉलेज रायपुर 4. दागा गर्ल्स कॉलेज रायपुर 5. महाराजा कॉलेज रायपुर

स्कूल – 1. दानी गर्ल्स स्कूल रायपुर 2. शासकीय हायर सेकंडरी स्कूल खोरपा 3. शासकीय हायर सेकंडरी स्कूल परसुलिडीह 4. क्रिशचन पब्लिक स्कूल रायपुर 5. कृष्णा पब्लिक स्कूल रायपुर

प्रमुख पर्यटन स्थल
प्रमुख पर्यटन स्थल

प्रमुख पर्यटन स्थल

  1. महंत घासीदास संग्रहालय – इस संग्रहालय का छत्तीसगढ़ के महान संत गुरु घासीदास जी के नाम पर रखा गया है | इस संग्रहालय में कई सारे इतिहासिक चीजे रखी हुयी है | जैसे मुर्तिया , पुराने हथियार , शिलालेख , नक्काशी , संगीत वाद्यायंत्र आदि ये सारे पाषण युग के बताक्ये जाते है |
  2. ऊर्जा पार्क रायपुर – रायपुर का ऊर्जा पार्क बच्चो के घुमे के लिए सबसे उत्तम जगह है | यहाँ पर नौकायान के लिए झील भी मौजूद है | यहाँ जगह जय एकड़ के हरे भरे जमीन पर फैला हुआ है | याह पर विज्ञान से सम्बन्धित कई सारे चीजे राखी हुयी है | जो बच्चो को विज्ञान की ओर प्रेरित करती है |
  3. स्वामी विवेकानंद सरोवर रायपुर – स्वामी विवेकानंद सरोवर लोगो के घुमे के लिए बहुत ही सुन्दर जगह है | यह एक बहुत ही शांत स्थान है | यह आकर अपने मन को शांत और तरोताजा बना सकते है | यहाँ पर नौकायान का भी शाधन उपलब्ध है | यह पर स्वामी विवेकानंद जी की बड़ी से मूर्ति भी बनी हुयी है |
  4. दूधाधारी मठ रायपुर – सुन्दर दूधाधारी मठ और प्राचीन मंदिर महराजबंध नदी के किनारे स्थित है | यह मंदिर 17 वी सदी के दौरान बनाया गया था | और यह भगवान् श्री राम जी समर्पित है | इसमें कई आश्चर्यजनक भित्ति चित्र है |

इसी तरह की महत्वपूर्ण जानकारियों के हमारे इस पेज को अवश्य फोलो करे – sujhaw24.com

 

ये भी देखे :-

1.Durg jila chhattisgarh : दुर्ग जिला छत्तीसगढ़ की कुछ ख़ास जानकारिया

2.phulbasan bai yadav : फुलबासन बाई यादव जी का जीवन परिचय

3.Dr.ramam sinh : डॉ. रमण सिंह छत्तीसगढ़ के बारे में जाने कुछ अनसुनी बाते

4.Ajit jogi chhattisgarh : अजित जोगी जी की कुछ ख़ास जानकारिया

Leave a Comment