phulbasan bai yadav : फुलबासन बाई यादव जी का जीवन परिचय

 

phulbasan bai yadav | फुलबासन बाई यादव

फुलबासन बाई यादव छत्तीसगढ़ राज्य अंचल की एक महान व्यक्तिव की धनि है | उन्होंने समाज के लिए कई कल्याणकारी कार्य किये है | फुलबासन बाई यादव ने समाज में जन जागरूकता लाने का प्रयास किया है | कई महिला समूहों को आत्मनित्भर बनाने और उनकी आर्थिक स्वतन्त्रता को सुनिश्चित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है | उनके इन कार्यो से ग्रामीण अंचल में रहने वाली महिलाओ की सामाजिक स्थिति में बहुत सुधार हुआ है |

फुलबासन बाई यादव
फुलबासन बाई यादव

फुलबासन बाई यादव जी का जन्म

फुलबासन बाई यादव का जन्म 5 दिसंबर सन 1969 में हुआ | फुलबासन बाई यादव जी का जन्म छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव जिला मुख्यालय से 10 किलोमीटर दूर स्थित सुकुलदैहान गाँव में हुआ | वे एक अल्प वित्तीय संसाधन वाले परिवार में जन्मी थी | जब वे 10 साल की तब उनकी शादी कर दी गयी थी और 12 साल की उम्र में हुन्हे ससुराल भेज दिया गया था | उनकी शिक्षा केवल 7 तक ही हुयी | ससुराल में भी उन्होंने बहुत ही गरीबी का सामना किया वे वह पशुओ को चरण एका भी काम करती थी | कई रात उन्हें भूखे पेट ही सोना पड़ता था |

स्वयं सहायता समूह की स्थापना

फुलबासन बाई यादव जी ने गाव में गरीबी के कारण उन्होंने बकरी भी चराई लेकिन कभी भी गरीबी से हार नही मानी और कठोर परिश्रम की | उन्होंने अपनी दृढ इच्छाशक्ति , और आत्मविश्वास , मेहनत से 5 पास फुलबासन बाई यादव ने वर्ष 2001 में 2 रूपये और 2 मुट्ठी चांवल से 10 महिलाओ के साथ एक स्वयं सहायता समूह की स्थापना की जिसका नाम उन्होंने माँ बमलेश्वरी जनहित कार्य समिति रखा | फुलबासन बाई यादव माँ बमलेश्वरी जनहित कार्य समिति की अध्यक्ष है | जो कभी 2 रूपये और 2 मुट्ठी चावल और 10 महिलाओ के साथ शुरू हुयी थी आज उस समिति से 2 लाख महिलाये जुड़ गयी है |

स्वयं सहायता समूह की स्थापना
स्वयं सहायता समूह की स्थापना

 फुलबासन बाई यादव जी का कथन

फुलबासन बाई यादव का कहना है की जब हम अपने पेट में निवाला डाले बिना सो गये और भूख गरीबी का एहसास किया तो मैंने अंतहीन रातो का सामान किया | मैंने न केवल अपनी स्थिति में सुधार करने की कसम खाई बल्कि आस पास रहने वाले ऐसे सभी परिवार की स्थिति को भी बेहतर बनाने की कसम खाई |

फुलबासन बाई यादव जी के प्रमुख कार्य

फुलबासन बाई यादव जी ने छत्तीसगढ़ की महिलाओ को आत्मनिर्भर बनाने में बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है | उन्होंने कई महिलाओ के समूहों को सशक्त बनाने और उनकी वित्तीय स्वतंत्रता सुनिश्चित करने में बहुत ही बड़ी भूमिका निभाई है | उनके इस कार्य से गाव में रहने वाल्ली महिलाओ की स्थिति में सुधार हुआ है |

फुलबासन बाई यादव जी ने समूह पल्स पोलियो पहल जैसे स्वास्थ्य और स्वच्छता कार्यक्रमों में भाग लेते और दुसरो को भी प्रोत्साहित करते की वे इस अभियान को समर्थन प्रदान करे | उन्होंने गाव को नशा मुक्त करने के लिए महिलाओ की एक फ़ौज भी बनाई और नशा मुक्ति अभियान भी चलाया | इसका उद्देश्य गाव को नशा मुक्त करना तथा घरेलु हिंसा को रोकना था |

कौन बनेगा करोडपति में भी कर्मवीर के रूप में
कौन बनेगा करोडपति में भी कर्मवीर के रूप में

फुलबासन बाई यादव जी ने जिले में खुले शौच को रोकने में योगदान दिया | उनके नेत्रित्व में कई गाँव में सरकारी सहयता से खुले शौच पूरी तरह बंद हो गया और ओ . डी . एफ . गाव बनाया | उन्होंने महिला सशक्तिकरण का कार्य भी किया उन्होंने महिलाओ के अधिकार और उनके कर्तव्यो के बारे में जागरूकता पैदा करने , उन्हें स्वतंत्रता प्राप्त करने और उनकी आर्थिक स्थिति को बेहतर बनाने के लिए दृढ संकल्पित रही |

उन्होंने महिलो को पैसा बचाने और अपनी वित्तीय स्थिति को सुधारने के लिए प्रेरित किया | फुलबासन बाई यादव ने महिलाओ को वित्तीय स्वतंत्रता की दिशा में काम करने और सरकार की विभिन्न लाभकारी योजनाओ के माध्यम से उनकी आर्थिक प्रगति को सुनिश्चित करने में मदद की | फुलबासन बाई यादव जी ने बाल विवाह के खिलाफ भी लोगो में जागरूकता फैलाने का काम किया |

फुलबासन बाई यादव जी को सम्मान

फुलबासन बाई यादव जी को भारत सरकार ने वर्ष 2012 में पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित किया | छत्तीसगढ़ शासन द्वारा जननी सुरक्षा योजना नामक प्रसूति कार्यक्रम के लिए उन्हें अपना ब्रांड एम्बैसडर बनाया गया था | फुलबासन बाई यादव जी को वर्ष 2014 में महावीर फाउंडेशन पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया | उन्हें भारत के बहुत से प्रसिद्ध व्यक्ति श्री अमिताभ बच्चन जी ने अपने कार्यक्रम कौन बनेगा करोडपति में भी कर्मवीर के रूप में सम्मानित किया था |

फुलबासन बाई यादव जी
फुलबासन बाई यादव जी

उन्हें मिनीमाता अलंकरण पुरस्कार , जी टीवी अस्तित्व पुरस्कार , जमना लाल बजाज पुरस्कार , सद गुरु ज्ञानानंद पुरस्कार आदि से सम्मानित किया गया है |

इसी तरह की महत्वपूर्ण जानकारियों के लिए हमारे पेज को अवश्य फोलो लीजिये – sujhaw24.com

 

ये भी पढ़े –

1.Dr.ramam sinh : डॉ. रमण सिंह छत्तीसगढ़ के बारे में जाने कुछ अनसुनी बाते

2.Ajit jogi chhattisgarh : अजित जोगी जी की कुछ ख़ास जानकारिया

3.kavi surendra dube : कवी  सुरेन्द्र दुबे जी छत्तीसगढ़ जाने बारे में 

4.sarangarh – bilaigarh chhattisgarh : सारंगढ – बिलाईगढ़ छत्तीसगढ़ जाने यहाँ की प्रमुख बाते

5.manrenga karykram : मंरेंगा कार्यक्रम छत्तीसगढ़ की जाने बढ़ी हुयी दर

Leave a Comment