bharat ka nya mishail parikshan : भारत का नया मिसाइल परिक्षण –Astra Mk-2 मिसाइल

bharat ka nya mishail parikshan | भारत का नया मिसाइल परिक्षण

bharat ka nya mishail parikshan : इजराइल और हमास के बिच तनाव जरी है  इसी बिच भारत भी अपने हथियारों का परिक्षण करने वाला है इसी कड़ी में भारतीय वायु सेना जल्द ही Astra Mk-2 मिसाइल का परिक्षण करने वाला है | इसके बाद भारत के ताकत मेंऔर भी बड जायेगा |

Astra Mk-2 मिसाइल वियों विजुआल रेज
Astra Mk-2 मिसाइल वियों विजुआल रेज

 

के केटेगरी में सामिल है ये मिसाइल 5556 कि.मी. प्रति घंटे के रफ्तार में दुश्मन पर हमला बोलता है | इसके गति के कारन लड़ाकू विमान हो या विमान के चालक इसे देख नही पाते है भारतीय वायु सेना के पास विभिन्न प्रकार के अचूक निशाना लगाने वाली मिसाइले है |

उनमे से Astra Mk-2 मिसाइल सबसे खतरनाक है क्युकी ये किसी भी टारगेट को मिस नही करता है मौजूदा समय में सेना में Mk-1 सामिल है Astra Mk-2  ट्रायल में है लेकिन जल्द ही इसके परिक्षण के बाद वायु सेना में सामिल कर दिया जायेगा | वायु सेना इस घातक मिसाइल के ताकत को देखते हुए इसे सामिल करने में पूरी तरीके से सहमत है इस में  सबसे महत्व पूर्ण बात यह है दुश्मन की अटेक हेलीकाप्टर हो या लड़ाकू विमान ये विमान कितनी भी तेजी से अपना जगा बदले अपना टारगेट लौक कर लिया तो उस दुश्मन को मिटा कर ही छोड़ता है |

इसके पीछे का वजह है इसमें Optical Proximity Fuze  का कगना है | जिसके दम पर ये मिसाइल लगा तार नजर बनाये रखता है और दुश्मन को ख़त्म कर देता है इसके सबसे बड़ी विशेषता इसका गति है जो टारगेट पर 5556 कि.मी. प्रति घंटे के रफ्तार से हमला करने में सक्षम है इसका वजन लगभग 154 कि.ग्रा.है इसकी लम्बाई 12.6फिट है इसकी चौड़ाई 178mm है | ये मिसाइल 15 कि.ग्रा. विस्फोटक को ले जा सकता है इसके साथ इसके रेंज 130 कि.मी. से ले कर 160 कि.मी के बीच है ये मिसाइल 66 हजार फिट की उचाई तक वार करने में सक्षम है इसे DRDO ने डिजाइन किया है |

भारतीय वायु सेना
भारतीय वायु सेना

 

खेर बात अगर हम भविष्य के युद्दो का करे तो भारत खुद को स्वदेसी हथियार से लेस करना चाहता है और Astra Mk-2   इसका एक उदहारण है इस वजह से इस खतरनाक विमान का तेजस Astra Mk-2  फाईटर और दुसरे फाईटर जेट्स में लगाया जा सकता है वायु सेना स्वदेसी अस्त्र मिसाइल को लगा कर पुराणी माइका मिसाइल से रिफ्रेस करेगा क्युकी माइका मिसाइल पुराना हो गया है खेर अब DRDO सफल टेस्ट करने वाला है उसके बाद ये तय हो जायेगा की चीन हो या पाकिस्तान सबको अपनी सीमा में रहना होगा अगर सीमा लघी तो ये मिसाइल कभी भी गिर सकती है |

 

इसी तरह के जानकारी के लिए हमारे सोसल मिडिया साईट Sujhaw24.com को फोलो जरुर करे जिससे आपको जानकारी आगे मिलता रहेगा |

ये भी पढ़े –

1.Bhart Agnibad Launch : भारत के राकेट टेक्नोलॉजी अग्नि बाण का सफल परिक्षण से घबराये देश जाने इसकी खासियत

2.UPSC CSE Toper 2024 Aditya Srivastava : जानिए इस साल का upsc  का टॉपर आदित्य श्रीवास्तव कौन  है

3.jyotiba fule ji : ज्योतिबा फुले का जीवन परिच

4.nobel prize winner peter higgs death : वैज्ञानिक पिटर हिग्स का निधन एटम से भी छोटा कण का पता चल चूका है जाने क्या है और किसने खोजा है

5.vishv jal diwas 2024 : विश्व जल दिवस 2024 जाने क्यों मनाया जाता है

 

Leave a Comment