water crisis in Chennai : चेन्नई में जल संकट देखिये पूरी कहानी

about water crisis : जल संकट के बारे में

water crisis जब किसी क्षेत्र या इलाके में पीने योग्य पानी की मांग वहां पर उपलब्ध पानी की मांग से ज्यादा हो जाती है| जल संकट अर्थात जल की कमी जहाँ पर जल पर्याप्त मात्रा में न हो | जल संकट का सबसे बड़ा करना जल का अत्यधिक दोहन करना है| और जल का अत्यधिक दोहन मनुष्य ही करता है| इसके साथ-साथ जल संकट का सबसे प्रमुख कारण जलवायु परिवर्तन है | उसके बाद प्रदुषण, मनुष्य द्वारा जल की अधिक मांग, मीठे पानी की मांग और उसमे कमी होना | आदि|

about water crisis, water crisis, water crisis images, water crisis in chennai
about water crisis

water crisis in chennai : चेन्नई में जल संकट

चेन्नई भारत देश का ऐसा शहर है जहाँ पर दशक पहले खूब वर्षा होती थी, और पानी का भरमार होता था| परन्तु अब ऐसी स्थिति नहीं है| चेन्नई ही देश का पहला ऐसा शहर भी बन गया है जहाँ पर भूमिगत जल पूरी तरह से ख़तम हो गया है| चेन्नई में जल की आपूर्ति वहां से लगभग 6 किलोमीटर दूर रेड हील्स से किया जाता है| और इस झील को कोसस्थलैयार की नदी से आपूर्ति मिलती है|

चेन्नई तमिलनाडु की राजधानी है| water crisis in Chennai  चरम पर है| यहाँ पर पानी की सप्लाई टैंकरों से की जाती है| यहाँ पर मेट्रो वाटर एजेंसी पाइप के जरिये दिन लगभग 52 करोड़ लीटर जल की आपूर्ति की जाती है| जबकि चेन्नई को प्रत्येक दिन लगभग 80 लीटर जल की आवश्यकता होती है| यहाँ के अधिकतर जलाशयों में पानी नहीं है और 4 तो सुख ही गए है| लोगो को थोडा ही पानी मिल पाता है|

water crisis in chennai, water crisis, about water crisis,
water crisis in Chennai

आंकडे :- आंकडे बताते है की water crisis in Chennai कितनी है | अब आंकड़ो पर नजर डाले तो 21 जून 2019 को चेन्नई के 4 जलाशयों में सिर्फ 0.19% पानी था| भीषण गर्मी की वजह से भूजल स्तर लगभग 300 फीट निचे चला गया था| वहां के खबरों से पता चला की प्रमुख जलाशयों की लगभग 10 साल से साफ़-सफाई नहीं हुई है| 2019 में ही चेन्नई में जल संकट से लगभग 90 लाख लोग प्रभावित हुए थे|

पानी की आवस्यकता :– चेन्नई को जल की बहुत जरुरत है| रिपोर्ट के अनुसार 2030 तक चेन्नई में जल की मांग 2365 मिलियन लीटर प्रतिदिन होने का अनुमान है|  चेन्नई की अत्यधिक आबादी वाले शहरों को प्रत्येक दिन 750 मिलियन लीटर जल की जरुरत है पर जल संकट के कारण 250 लीटर जल ही मिल पा रहा है|

 reason of water crisis in Chennai : चेन्नई में जल संकट का कारण

  1. सबसे बड़ी बात गर्मियों में तापमान अत्यधिक बढ़ जाता है जिससे पानी का लगभग 5 वा हिस्सा वाष्पित हो जाता है|
  2. वहां की बेतरतीब और ख़राब योजनायें |
  3. चेन्नई में मिट्टियों से ज्यादा सड़के है जिससे जल जमीन के अन्दर प्रवेश नहीं कर पाते|
  4. बारिश का पानी सड़क तथा नाली से बहकर निकल जाता है|
  5. वहां जल का ख़राब प्रबंधन भी एक कारण है |
  6. बढती आबादी या जनसँख्या सबसे बड़ा कारण है |
  7. तेजी से फैलता शहरीकरण और नगरीकरण तथा औद्योगीकरण के कारण भी |
  8. दशको पहले वहां ऐसी स्थिति नहीं थी तो इन दस सालो में सरकारी नीतिया बहुत ख़राब रही है | आदि|

ऐसे महत्वपूर्ण जानकारी जानने के लिए हमसे जुड़े रहिये तथा हमारे वेबसाइट को जरुरु फॉलो करे :- sujhaw24.com

Join Whatsapp Channel Join Whatsapp Channel
Join Telegram Channel download 1 2

 

यह भी पढ़े :-

1.big news Mahadev betting app scam case : महादेव सट्टा एप घोटाला केस जानिए इसकी पूरी जानकारी

2.big news water crisis : जल संकट देखिये भारत और विश्व में कैसे यह एक गंभीर समस्या बनता जा रहा है

3.India’s most modern solar panel : भारत का सबसे आधुनिक सोलर पैनल जाने इसके बारे

4.Big News Whatsapp Exit In India : व्हाट्सएप्प अब भारत छोड़ कर जाने वाला है जाने क्या है पूरी सच्चाई

5.Biography in kavi tulsidas : कवी तुलसीदास जी के बारे में जन्म से लेकर अंत तक की कहानी