Supreme court : देखिये सर्वोच्च न्यायालय की स्थापना से लेकर कार्य तक सबकुछ

सर्वोच्च न्यायालय : supreme court

भारत में पहली बार supreme court की स्थापना 1774 में हुई थी| इसे उस समय कलकत्ता सर्वोच्च न्यायालय कहा जाता था| उसमे एक मुख्य न्यायाधीश और 3 अन्य न्यायाधीश होते थे|  भारत के सर्वोच्च न्यायालय की नींव 1 अक्टूबर 1937 को ब्रिटिश राज में रखा गया था| उस समय भारत के सर्वोच्च न्यायालय बोम्बे, मद्रास, और कलकत्ता में थे| भारत के सर्वोच्च न्यायालय का उद्घाटन 28 जनवरी 1950 को पुराने संसद भवन के नरेन्द्र मंडल में हुआ था| यह तिलक मार्ग नई दिल्ली में स्थित है| भारत के सर्वोच्च न्यायालय में वर्तमान में CJI सहित 34 न्यायाधीश है| 1950 chief justice सहित 8 न्यायाधीश थे|

supreme court, supreme court images, supreme court logo, court,
Supreme court

सर्वोच्च न्यायालय के अध्यक्ष : president of the supreme court

भारत के मुख्य न्यायाधीश (CJI) भारतीय न्यायपालिका और सर्वोच्च न्यायालय के अध्यक्ष होते है| संविधान के अनुच्छेद 124(1) के तहत सर्वोच्च न्यायालय का गठन किया गया था, इसके अनुसार भारत का के सर्वोच्च न्यायालय होगा, जिसका मुखिया भारत का मुख्य न्यायाधीश होगा|  भारत के राष्ट्रपति, निवर्तमान मुख्य न्यायाधीश के परामर्श से अगले मुख्य न्यायाधीश की नियुक्ति करता है| भारत के मुख्य न्यायाधीश अक्सर बराबरो में प्रथम के रूप में वर्णित होता है| वे सर्वोच्च न्यायालय और उसके न्यायाधीश का नेतृत्व करते है| भारत के वर्तमान 2024 में मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति धनन्जय वाई चंद्रचूड है| भारत के पहले मुख्य न्यायाधीश HJ कानिया थे|

supreme court, president of supreme court, chief justice,
chief justice of supreme court

सर्वोच्च न्यायालय की भूमिका : role of supreme court 

supreme court of india को संविधान का संरक्षक माना जाता है| यह संविधान के अनुच्छेद 32 के तहत मौलिक अधिकारों के उल्लंघन का बचाव भी करता है| यह अनुच्छेद 131 के तहत केंद्र और राज्य के बिच विवाद को शांत करता है|

  • यह नागरिको के मौलिक अधिकारों की रक्षा करते है|
  • यह अन्य निचली अदालतों में न्यायधिशो की नियुक्ति में भी भूमिका निभाता है|
  • यह कार्यपालिका या विधायिका को संविधान के किसी भी प्रावधान का उल्लंघन करने नहीं देता है|
  • यह सरकार के किसी भी कार्य का जिससे मौलिक अधिकारों का हनन हो न्यायिक पुनरावलोकन कर सकते है|
  • यह विभिन्न राज्यों के उच्च न्यायालयों के फैसलों के खिलाफ अपील सुनते है|
  • यह ऐसे मामलो की भी सुनवाई करते है जिन्हें भारत के राष्ट्रपति द्वारा संदर्भित किया जाता है|
  • यह देश का शीर्ष न्यायालय है और न्याय की अपील हेतु अंतिम न्यायालय है|
supreme court, role of supreme court, supreme court images, justice,
Role of supreme court

सर्वोच्च न्यायालय के कार्य : functions of supreme court

भारत का सर्वोच्च न्यायालय, न्यायिक पदानुक्रम में सबसे ऊपर है, यह देश का शीर्ष न्यायालय है और दिल्ली में स्थित है|

  • संविधान की व्याख्या करता है|
  • राष्ट्रिय कानूनों पर फिसला लेता है|
  • न्यायिक समीक्षा की शक्ति का उपयोग करता है|
  • न्यायिक कानून बनाने की श्कतियो का उपयोग करता है|
  • केंद्र और राज्यों के बिच विवादों को सुलझाता है|
  • राष्ट्रपति के निर्देश पर मामलो की सुनवाई करना|
  • नागरिको के मौलिक अधिकारों की रक्षा के लिए रिट जारी करता है|
  • केंद्र सरकार या राज्य सरकार द्वारा बनाये गए ऐसे कानूनों को रद्द कर सकता है जो उसके अधिकार क्षेत्र से बाहर हो|

भारत में न्यायालय : courts in india 

भारत में 6 प्रकार के courts स्थापित किये गए है|

  1. सर्वोच्च न्यायालय (supreme court)
  2. उच्च न्यायालय (high court)
  3. जिला और अधीनस्थ न्यायालय ( district and subordinate courts)
  4. ट्रिब्यूनल (tribunal )
  5. फ़ास्ट ट्रेक कोर्ट (fast track court)
  6. लोक अदालत (public court)

नोट :- भारत के सर्वोच्च न्यायालय की पहली महिला  न्यायाधीश एम. फातिमा बीवी थी| वह 1989 में सर्वोच्च न्यायालय में नियुक्त हुई थी| इनका निधन 23 नवम्बर 2023 को तमिलनाडु की राज्यपाल के तौर पर हुई| और उच्च न्यायालय की पहली महिला न्यायाधीश लीला सेठ थी|

यह भी पढ़े :-

1.shadani darbar chhattisgarh : शदाणी दरबार छत्तीसगढ़ की जाने प्रमुख बाते 

2.About Life : जीवन के बारे में सबकुछ सुन्दरता से लेकर कडवा सच तक

3.Dr. Bhimrao Ambedkar : डा. भीमराव अम्बेडकर का राजनीतिक विचार

4.Sex : सेक्स देखिये इसके फायदे और नुकसान

5.dipadih ambikaapur chhattisgarh : डिपाडीह अम्बिकापुर , छत्तीसगढ़ 

Leave a Comment