Big News EAC-PM Report 2024 : पीएम की आर्थिक सलाहकार परिषद् रिपोर्ट 2024 के अनुसार हिन्दुओ की संख्या में आई कमी देखिये सबकुछ

EAC-PM Report

प्रधानमंत्री की आर्थिक सलाहकार परिषद् (EAC-PM report 2024) की एक रिपोर्ट सामने आई है | यह रिपोर्ट 9 मई 2024 को आया था| इसमें बताया गया है की भारत में 1950-2015 के बिच हिन्दुओ की संख्या में कमी आई है तथा हिन्दू सबसे ज्यादा घटे है| और इसी दौरान मुस्लिमो की जनसँख्या 4.25% बढ़ा है|

EAC-PM report , EAC-PM report 2024
EAC-PM report

 

सम्प्रदाय  1950 2015 बदलाव 
हिन्दू 84.68% 78.06% -6.62%
मुस्लिम 9.84% 14.09% +4.25%
सिक्ख 1.24% 1.85% +0.61%
इसाई 2.24% 2.36% -0.12%
बौद्ध 0.05% 0.81% +0.76%

 

EAC-PM report 2024 के अनुसार सिक्ख और बौद्ध बढ़ गए और पारसी कम हो गए | भारत ले 7 सम्प्रदायों (हिन्दू, मुस्लिम , सिक्ख, इसाई, बौद्ध, और जैन) में से 3 ( मुस्लिम, सिक्ख और बौद्ध) की जनसँख्या में हिस्सेदारी बढ़ गयी और 4 की घट गयी|

 

in world

दुनिया में देखे तो मालदीव के अलावा सभी मुस्लिम देश में बहुसंख्यक में वृद्धि हुई| दुनियाभर में बहुसंख्यक की आबादी में हिस्सेदारी लगभग 22% कम हुई| 167 देशो में से लगभग 123 देशो में बहुसंख्यक का हिस्सा घटा है और 44 में बढ़ा है|

देश  बहुसंख्यक आबादी में कमी  देश  बहुसंख्यक आबादी में वृद्धि 
म्यांमार -9.84% बांग्लादेश +18.55%
भारत -7.82% भूटान +17.67%
नेपाल -3.61% श्रीलंका +5.25%
मालदीव -1.47% पाकिस्तान +3.75%

 

EAC-PM report 2024   के अनुसार नेपाल में बहुसंख्यक हिन्दू आबादी 65 वर्षो में 4 प्रतिशत कम हो गयी | लाइबेरिया में बहुसंख्यक की आबादी सबसे ज्यादा 99 प्रतिशत तक घटी है| और नामीबिया में सबसे ज्यादा तक़रीबन 80 प्रतिशत बढ़ी है|

आइये एक नजर डालते है एक और रिपोर्ट के ऊपर जिसमे बताया गया है की कैसे मुस्लिमो की प्रजनन दर कम होती गयी है| पिछले 32 साल में देश में मुस्लिमो की प्रजनन दर आधी रह गयी | पहले यह 4.4 था जो अब 2.32 हो गया है|

 

NFHS report

भारत में 2019-21 में हिन्दुओ में प्रजनन दर 1.94 प्रतिशत और मुस्लिमो में 2.36 प्रतिशत रह गयी | इसके अनुसार हर हिन्दू महिला के पीछे 2 बच्चे तथा मुस्लिम के 2 से ज्यादा | केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी किया गया राष्ट्रिय स्वास्थ्य सर्वे रिपोर्ट के अनुसार यह आंकडे दर्ज किये गए है| भारत ,में ओवरआल देखा जाये तो पप्रजनन दर 2.3 प्रतिशत हो गयी है| जो 1992-93 में 4.4 प्रतिशत था|  परन्तु बाकि सम्प्रदायों की तुलना में मुस्लिमो में अभी भी प्रजनन दर थोड़ी अधिक है|

 

reason : कारण

मुस्लिम महिलाओ में प्रजनन दर कम इसलिए हुई क्योंकि वह अब पहले से ज्यादा शिक्षित हो रही है जिसके कारण उनके विचार बदलने लगे है जिससे वे भी अधिक बच्चे पैदा नहीं कर रहे है| 2019-21 में अनपद मुस्लिम महिलाएं घटकर 21.9 प्रतिशत रह गया| 2015-16 में यह 32 प्रतिशत तक था| विशेषज्ञों का मानना है की हिन्दुओ और मुस्लिमो के बिच प्रजनन दर का अंतर तेजी से कम हो रहा है| अधिक प्रजनन दर के पीछे ये गैर धार्मिक बड़ी वजह बना है|

शिक्षा में सुधार से मुस्लिम महिलाओ की स्थिति बेहतर हुई है| जैसे केरल में मुस्लिम महिलाएं अधिक शिक्षित हुई है जिससे केरल में इनकी प्रजनन दर कम 2.25% हुई है| और इसी के साथ बिहार में  यह 2.88% है| क्योंकि बिहार में शिक्षा की स्थिति अच्छी नहीं है|

ऐसे ही महत्वपूर्ण जानकरी और सही न्यूज़ के लिए हमसे जुड़े रहिये और हमारे वेबसाइट को जरुर फॉलो करे | हमारे वेबसाइट पर मेरा गाँव तथा मेरा शहर के तहत हमने नया पोर्टल बनाया है जिसमे ग्रामो से जुडी जानकरी और न्यूज़ प्रदान किया जाता है| आप वहां जाकर गाँवो के बारे में देख सकते है| इसके माध्यम से आप देश, दुनिया, राज्य तथा शिक्षा के बारे में सही, सटीक और कुछ नयी जानकारी देख सकते है| :-sujhaw24.com

Join Whatsapp Channel Join Whatsapp Channel
Join Telegram Channel download 1 2

 

यह भी पढ़े :- 

1.politics of bjp : बीजेपी की राजनीती देखिये सबकुछ वादे से लेकर विवाद तक

2.lok sabha election 2024 : चुनावी माहौल और नेताओ की राजनीती देखिये सबकुछ जो आपको जानना जरुरी है

3.Breaking News Sunita Williams trip to space again : भारत को गौरान्वित करने चले सुनीता विलियम्स फिर अन्तरिक्ष की सैर पे जाने कब जायेंगे |

4.unemployment : बेरोजगारी देखिये भारत में क्या है स्थिति

5.unemployment in india : भारत में बेरोजगारी दर इतनी क्यों बढ़ रही है और सरकारे कैसे कुछ नहीं कर रही है देखिये सभी जानकारी

 

Leave a Comment