mahavir jayanti : महावीर जयंती में देखिये भगवान महावीर के बारे में पूरी जानकारी

महावीर : mahavir

2024 में महावीर जयंती 21 अप्रैल  को मनाया जा रहा है| bhagvan mahavir एक महान संत थे|  महावीर जैन धर्म और महान धर्मगुरु थे| इनका जन्म कुंडलग्राम बिहार में हुआ था| भगवान महावीर ने अपना जीवन एक भिक्षु के रूप में जिए | इन्होने अपने जीवन काल में बहुत से महत्वपूर्ण उपदेश तथा अनमोल विचार दिए| महावीर जी ने अहिंसा, सत्य, ब्रह्मचर्य, और अनेकता को जैन धर्म के लिए प्रमुख भूमिका माना|

mahavir, bhagvan mahavir, svami mahavir, mahavir image, mahavir jayanti, mahavir jayanti 2024
Bhagvan Mahavir

महावीर का परिचय : introduction of mahavir

महावीर जैन धर्म के 24 वें तीर्थकर थे| और इनका जन्म 599 इसा पूर्व में कुंडलपुर में हुआ था|  इनके पिता का नाम महाराजा सिद्धार्थ था और माता महारानी त्रिशाला थी| इनके बचपन  का नाम वर्धमान था| कहते है की भगवान महावीर ने 12 वर्षो तक बहुत कठोर तप किये और अपनी सभी इन्द्रियों को अपने वश में किये थे| जिससे उनका नाम जिन भी पड़ा|  महावीर का सम्बन्ध प्रभु श्री राम से जोड़ा जाता है| क्योंकि भगवान राम का जन्म जिस कुल में हुआ था उसी कुल में महावीर जी का जन्म हुआ था| राम और महावीर दोनों ही सूर्यवंशी थे| दोनों का जन्म इच्छावाकू वंश में हुआ था|  bhagvan mahavir 30 वर्ष की उम्र में संसार वे अलग होकर सबकुछ छोड़कर सन्यास धारण कर लिए | और उसके बाद आत्मकल्याण की राह पर निकल गए|

mahavir, mahavir jayanti, mahavir image, svami mahavir , introduction of mahavir, महावीर, महावीर का परिचय, भगवान महावीर
introduction of mahavir

महावीर के गुरु :- भगवान महावीर के गुरु के नाम गौतमस्वामी था| और महावीर जी के 11 प्रमुख शिष्य थे| जिनमे पहले इंद्रभूति जी थे|

महावीर की मृत्यु : death of mahavir

जैन श्वेताम्बर के अनुसार महावीर जी का निर्वाण 527 इसा पूर्व में हुआ था| mahavir ने 72 साल की आयु में बिहार के राजगीर में कार्तिक कृष्ण अमावस्या को मोक्ष प्राप्त किये थे|  पावापुरी के जल मंदिर से महावीर स्वामी जी के देह का अग्निसंस्कार किया गया था| और फिर सभी लोग वहां पर दिए जलाने लगे| और उसके बाद mahavir jayanti  मनाया जाने लगा|

महावीर के उपदेश और अनमोल विचार : mahavir thoughts and mahavir teaching

भगवान महावीर अपने प्रवचनों में हमेशा धर्म, सत्य, अहिंसा आदि पर जोर दिए है| इनके अनुसार अहिंसा, संयम, तप ही धर्म है|  इन्होने कहा था की धर्मात्मा लोगो की देवता भी सम्मान करते है|

भगवान महावीर के अनमोल विचार :-

  1. भगवान का अलग से कोई अस्तित्व यहाँ नहीं है|
  2. शांति और आत्म नियंत्रण अहिंसा है|
  3. सभी जीवित प्राणियो के प्रति आदर का भाव अहिंसा है|
  4. सभी मानव अपनी गलती की वजह से दुखी रहते है|
  5. खुद पर विजय पाना ही लाखो शत्रुओ पर जीत हासिल करने से कही ज्यादा बेहतर है|
  6. आपकी स्वयं की आत्मा से परे कोई भी शत्रु नहीं है|
  7. असली शत्रु तो आपके अन्दर रहते है|
  8. अहिंसा सबसे बड़ा धर्म है|
  9. जियो और जीने दो के सन्देश पर हमेशा कायम रहना चाहिए|
  10. प्रत्येक मनुष्य सही दिशा में सर्वोच्च प्रयत्न करके देवत्व प्राप्त कर सकता है|

ऐसे ही सही , सटीक और कुछ नया तथा हटके और अच्ऐछी जानकारी हमारे साइटे के माध्सेयम से आप लोगो को दी जाति है| इसमें बिना किसी पक्ष-विपक्ष के देश, दुनिया, राज्यों तथा शिक्षा से जुड़े समाचार या जानकारी दी जाति है|  और अधिक जानकारी के लिए हमसे जुड़े रहिये या हमारे इस साईट को जरुर फॉलो करे :- sujhaw24.com

यह भी पढ़े :- 

1.Lok Sabha Chunav Ka Pahla charan 2024 : देखिये लोकसभा चुनाव 2024 के पहले चरण के चुनाव का विश्लेषण

2.Lok Sabha second phase election 2024 : लोकसभा चुनाव 2024 में दुसरे चरण का चुनाव देखिये पूरी जानकारी

3.2024 Lok Sabha election in india : भारत में 2024 लोकसभा चुनाव देखिये पहले चरण का चुनाव

4.Loksabha chunav chhattisgarh 2024 : लोकसभा चुनाव छत्तीसगढ़ जाने कहा से किसे मिला है सिट

5.unemployment in india : भारत में बेरोजगारी दर इतनी क्यों बढ़ रही है और सरकारे कैसे कुछ नहीं कर रही है देखिये सभी जानकारी

6.PM Modi is Dictator : पीएम मोदी क्या तानाशाही है देखिये सबकुछ देश और लोकतंत्र किस ओर जा रहा है

Leave a Comment